,सवीना क़ृषि मंडी के 2 आरोपी गिरफ्तार.

उदयपुर की कृषि मंडी में 18 तारीख को हुए लूट के मामले को पुलिस ने दो अभियुक्तों की गिरफ्तारी के साथ खुलासा कर दिया है। 

अभियुक्त भरत और ललित ऑफ लक्ष्य लक्ष्य राज निवासी निवासी हिरणमगरी सेक्टर 4 कि कृषि मंडी के व्यापारी रविकांत छाबरिया के दुकान पर और मौके से फरार हो गए थे भागते समय वह अपनी मोटरसाइकिल और पिस्तौल नुमा  चीज को मौके पर ही  छोड़कर फरार हो गये थे। 

 प्रार्थी से मिली रिपोर्ट के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामला दर्ज करते हुए दोनों आरोपियों की तलाश शुरू की हिरणमगरी थाना अधिकारी  हनुमंत सिंह व थानाधिकारी कानोड़ की संयुक्त टीम को ज्ञात हुआ कि अभियुक्त अभियुक्त भरत पवार लूट की वारदात में शामिल है जिस पर भारत के सेक्टर 4 स्थित मकान पर पुलिस ने रेड की पुलिस को देखने पर अभी दो मंजिला मकान से कूदकर भागने लगा इसको कुछ दूर पीछा कर कर पकड़ा गया। 

भरत से प्राथमिक पूछताछ में उसने अपने साथियों के साथ मिलकर कुल ₹460000 की लूट करना स्वीकार किया। 
 भरत की जानकारी पर पुलिस ने उसके अन्य साथी लक्ष्यराज को भी गिरफ्तार कर लिया है और दोनों से अनुसंधान जारी है। 

अब तक की पूछताछ में दोनों ही अभियुक्तों ने पुलिस को बताया कि वह कृषि मंडी से ट्रक लूटने के इरादे से मंडी पहुंचे थे और लूट के पैसों से मौज मस्ती करने का सोचा था। 

गिरफ्तार अभियुक्तों ने सबीना थाना क्षेत्र के वीआईपी कॉलोनी से एक मोटरसाइकिल चुराना भी स्वीकार किया। 
 इसके अतिरिक्त उन्होंने हिरण मगरी सेक्टर 9 से भी एक मोटर साइकिल चलाना स्वीकार किया जिससे उन्होंने लूट को अंजाम दिया। 

पुलिस ने अभियुक्तों की जानकारी पर दोनों ही मोटरसाइकिल जबकि है और लूटे गए रुपयों के बारे में अभी पूछताछ जारी है। 

आपको बता दें कि गत 18 मई को दो मोटर साईकल सवार अभियुक्तों ने क़ृषि मंडी में एक व्यापारी से दो लाख रूपए लुटे थे और मौके से फरार होते समय मोटर साईकल से गिरने पर उसको मौके पर ही छोड़ कर फरार हो गये थे। 

लॉक डाउन के दौरान  हुई लौट कि iw वारदात के बाद शहर में अफरा तफरी का माहौल हो गया और हिरणमगरी थाना पुलिस ने मौके पर पहुँच कर मोटर साईकल जप्त कि, वहीं पुलिस को मौके से एक पिस्तौल नुमा चीज भी बरामद हुई  थी जिससे भी कब्जे में लिया गया था। 

Related

JOIN THE DISCUSSION

sixteen − fourteen =