​एसओजी की एक और बड़ी सफलता: निजी ट्रेवल्स में सफर कर रहे यात्री से 3 किलो चरस पकड़ी.

मादक पदार्थों की धरपकड़ अभियान के तहत राजस्थान पुलिस की स्पेषल ऑपरेषन ग्रुप की उदयपुर यूनिट ने बुधवार देर रात निजी ट्रेवल्स से सफर कर रहे एक यात्री से 3 किलो चरस पकड़ी है। 

एसओजी एडिएसपी सिद्धांत शर्मा ने बताया कि जरिए मुखबीर सूचना थी कि नीमच से अहमदाबाद जाने वाली गणेष ट्रेवल्स एजेंसी की स्लीपर कोच बस में एक बुजुर्ग यात्री बड़ी संख्या में हथियार लेकर जा रहा है। 

इस पर एसओजी इंस्पेक्टर अब्दुल रहमान, हेडकांस्टेबल धर्मेन्द्र, कांस्टेबल प्रदीप और पवन की टीम ने देबारी पर नाकाबंदी की। गणेष ट्रेवल्स की बस देबारी से क्रॉस हुई, तो टीम ने इसका पीछा किया। एसओजी टीम ने रात करीब 1 बजकर 10 मिनट पर बस को उदयपुर शहर के अंदर आरसीए के पास रूकवाया। 

बस और सभी यात्रियों के सामान की तलाषी ली। इस दौरान एक संदिग्ध यात्री स्लीपर सीट में सोता हुआ मिला। उसके बैग की तलाषी ली गई तो उसमें कपड़ों के बीच पैकेट्स में 3 किलो चरस बरामद हुई है।
 यात्री से नाम पूछा तो उसने अपना नाम अहमदाबाद में छीपा सोसायटी, दानी लिमड़ा निवासी शमषुद्दीन 60 पुत्र कमरूद्दीन छीपा बताया। उसके बैग से बरामद हुए चरस के बारे में पूछने पर उसके पास कोई वैध दस्तावेज नहीं मिले। 

पूछताछ में बताया कि यह चरस मध्यप्रदेष के जावद से अहमदाबाद गुजरात लेकर जा रहा था।

 इस पर एसओजी टीम इंचार्ज इंस्पेक्टर अब्दुल रहमान ने शमषुद्दीन को सूरजपोल थाना पुलिस के सुर्पुद कर मादक पदार्थो की तस्करी की उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई।

Related

JOIN THE DISCUSSION

10 + 2 =