आपसी रंजिश के चलते अभियुक्तों ने किया पुलिस कांस्टेबल के बेटों पर चाकू से हमला.

उदयपुर पुलिस डिपार्टमेंट के पुलिस कांस्टेबल महेंद्र सिंह के बेटों पर असामजिक तत्वों ने चाकू से हमला कर दिया। 

हमले के दौरान दोनों भाई घायल हो गये जिसके बाद उनको इलाज के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया। 

घायल भवानी सिंह(18) और उसका भाई अजित सिंह (20) आज़ाद नगर के रहने वाले हैं,सोमवार को जब भवानी अपने एक मित्र नीरज के साथ शहर के रामपुरा इलाक़े स्थित पेट्रोल पंप पर पेट्रोल भरवाने पहुंचा तो वहा उसके पड़ोस में रहने वाला मयंक अपने अन्य साथियों संदीप और गौरव के साथ वहां पहुंचा और भवानी से झगड़ने लगा, भवानी और नीरज अपनी जान बचाने के लिए वहां से भागे लेकिन अभियुक्तों ने उनका पीछा किया और भवानी को रास्ते में रोक उसपर चाकू से हमला कर दिया। 

इस बीच जब भवानी का बड़ा भाई वहां पहुंचा और बीच बचाओ करने लगा तो अभियुक्तों ने उसके पेट पर चाकू से वार कर दिया और दोनों भाइयों को मौके पर ही घायल छोड़ फरार हो गये। 

दिन दहाड़े हुई चाकू बाजी कि इस घटना से इलाक़े में सनसनी फ़ैल गयी, घटना कि जानकारी मिलने पर अम्बामाता थाने से पुलिस भी मौके पर पहुंची और घायल को अस्पताल पहुंचाया और अभियुक्तों कि तलाश शुरू कि। 

पुलिस से प्रताप जानकारी के अनुसार अभियुक्त मयंक, भवानी से अक्सर पैसे वसूला करता था और उसे आये दिन परेशान किया करता था,घटना के समय भी वह भवानी के पास इसी इरादे से आया था और उससे जबरन पैसे लेना चाहता था। 

घायलों के पिता महेंद्र सिंह शहर के सुखेर थाने में बतौर कांस्टेबल पोस्टेड हैं। 

हालांकि पुलिस ने अभियुक्तों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनकी तलाश करदी हैं और घायलों को भी अस्पताल में भर्ती करवाया गया हैं जहाँ उनका इलाज जारी हैं। 

Related

JOIN THE DISCUSSION

4 × 1 =