अगर आपकी बाइक मे मॉडिफाइड साइलेंसर लगा हैं तो यातायात पुलिस कर सकती हैं आप पर कार्यवाही.

जिला पुलिस अधीक्षक श्री कैलाशचन्द्र विश्नाेई के द्वारा शहर मे मॉडिफाइड मोटर साईकलो और ज्यादा आवाज करने वाले सैलेंसर्स लगाकर ध्वनि प्रदुषण फैलाने वाले लोगों चलाये जा रहे एक विशेष अभियान चलाया जा रहा हैं।

इस अभियान के तहत यातायात पुलिस उप अधीक्षक श्री परबत सिंह एवं नैत्रपाल सिंह के निर्देशन में यातायात पुलिस द्वारा इनफील्ड/बुलट मोटरसाईकिलाे पर वाहन चालको द्वारा मुल साईलेन्सर को हटा कर तेज आवाज कर ध्वनि प्रदुषण कर लाेगो के जीवन को खतरे में डालने का कृत्य करने वालाें के खिलाफ लगातार शहर में विभन्न चौराहे ,फतहसागर, रानी रोड आदि स्थानाे पर चैक कर वाहनाे काे जप्त किया जाकर मोडिफाईड साईलेन्सर को खुलवाकर मुल साईलेन्सर लगवाया जा रहा है तथा चालान की कार्यवाही भी की जा रही है।

मुल साईलेन्सर के स्थान पर मोडिफाईड साईलेन्सर लगाना आरसी की शर्तों का उल्लघंन हाेता है तथा नये मोटर व्हीकल एक्ट मे इस प्रकार के वाहन चालकाे के विरूद्व न्यायालय द्वारा भारी जुर्माना लगाया जाता है।

आरसी की शर् का उलघ्घंन होने से उक्त वाहनो के आरसी निलम्बन की कार्यवाही पृथक से यातायात पुलिस द्वारा की जा रही है माह नवम्बर मे अब तक यातायात पुलिस द्वारा 50 बुलट बाईक के मोडिफाईड साईले न्सर को जप्त किया जा चुका है। मोडिफाईड साईलेन्सराे को अवैध होने के कारण नष्ट करने की कार्यवाही पृथक से की जाएगी। 

उदयपुर मे इनफील्ड बाईक डीलर एवं साईलेन्सर बेचने वाले ऑटाे पार्ट डिलरो/दुकानदाराे काे भी पाबन्द किया गया है कि वे मोडिफाईड साईलेन्सर का ब ेचान बन्द करे अन्यथा उनके विरूद्व भी नये एमवी एक्ट तहत कार्यवाही की जाएगी। यातायात पुलिस द्वारा आगामी दिनों मे भी मोडिफाईड साईलेन्सर बाईकाे के खिलाफ कार्यवाही की जावेगी।

Related

JOIN THE DISCUSSION

5 × 3 =